जानिए सेब खाना क्यों जरूरी है?

सेब (Apple) धरती पर बहुत पहले से मौजूद हैं। वैज्ञानिकों के अनुसार दुनिया में पहली बार सेब हजारों साल पहले मध्य एशियाई देश कज़ाख़िस्तान में पैदा हुए थे। एक सेब (Apple) पेड़ 100 से अधिक वर्षों तक जीवित रह सकता हैं।

सेब खाने के फायदे

विटामिन्स और आयरन से भरपूर

रोज एक सेब खाने से शरीर में स्फूर्ति रहती है। चाय या कॉफी से भी अधिक कारगर सेब होता है। इसकी प्राकृतिक चीनी कैफीन की तुलना में अधिक शक्तिशाली है।

सेब में विटामिन C भरपूर मात्रा में पाए जाते हैं, इसके अलावा इसमें फाइबर और एंटीऑक्सीडेंट तत्व भी पाए जाते हैं।

इसमें आयरन की मात्रा भी पाई जाती है जिससे एनीमिया की बीमारी में लाभ मिलता है।

फाइबर और एंटीऑक्सिडेंट्स का खज़ाना

सेब कभी भी छील कर नही खाने चाहिए, क्योंकि इसके छिलके में दो-तिहाई फाइबर और बहुत सारे एंटीऑक्सीडेंट पाए जाते हैं। रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढाता है।

दांतो के लिए लाभकारी

यह आपके दांतों को स्वस्थ और चमकदार बनाता है। मूंह में होने वाली कई सारी बीमारियों से सेब छुटकारा दिलाता है।

कैंसर और मधुमेह से रखे दूर

रिसर्च में यह पाया गया है की सेब खाने से कैंसर का खतरा कम होता है। यह दिल की बीमारियों से भी बचाव करता है। शरीर से कोलेस्ट्रोल लेवल को कम करता है। टाइप-2 मधुमेह का खतरा भी कम हो जाता है

स्वस्थ पाचन तंत्र

सेब खाने से पाचन क्रिया ठीक रहती है। कब्ज और दस्त जैसी समस्याओं से बचाव होता है।

गुर्दे की पथरी (स्टोन) को बनने से रोकता है।

मजबूत हड्डियां

सेब में प्रचुर मात्रा में कैल्शियम और आयरन होता है जो हड्डियों को मजबूत बनाता है।

बढ़ाए एकाग्रता

यह मस्तिष्क के लिए भी बहुत ही लाभदायक है। यह एकाग्रशक्ति और याददाश्त को बढ़ाने में मदद करता है।

आंखो की रोशनी बढ़ाए

आँखों से जुडी समस्याएं जैसे ग्लूकोमा, आखों की रौशनी कम होना आदि को भी ठीक करता है।

त्वचा और बालों के लिए फायदेमंद

त्वचा (स्किन) के लिए भी फायदेमंद है, चेहरे की झुर्रियां, दाग-धब्बे को दूर करता है। एप्पल जूस को बालों पर लगाने से रुसी (dandruff) खत्म हो जाती हैं।

रोचक जानकारी

सेब पानी में तैरता हैं!! इसका कारण है कि इसके अंदर का 25 प्रतिशत भाग हवा से बना होता है। इस वजह से सेब पानी में डूबता नहीं।

So it’s rightly said : An Apple a day, Keeps the Doctor away.

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *